फास्ट टाइपिंग करने के क्या हैं कारगर तरीके | Typing speed kaise badhaye

कंप्यूटर को चलाना प्रत्येक चाहता है लेकिन टाइपिंग स्पीड बढ़ाना कोई नहीं चाहता। कंप्यूटर की नॉलेज (computer basic knowledge) तभी मानी जाती है जब कंप्यूटर की नॉलेज के साथ-साथ typing speed fast हो। लेकिन typing speed kaise badhaye यह बड़ा सवाल है।

कंप्यूटर ने हमारे काम करने के तरीके को काफी हद तक आसान कर दिया है। कंप्यूटर या लैपटॉप पर typing speed fast होने पर घंटों का काम मिनटों में निपटाया जा सकता है। यहाँ तक कि अधिकतर नौकरी के लिए लिखित परीक्षा के साथ-साथ टाइपिंग टेस्ट भी पास करना जरूरी है। 

क्या आप टाइपिंग स्पीड बढ़ाना चाहते है तो आपको टाइपिंग स्पीड बढ़ाने (speed kaise badhaye) वाले तरीकों को अपनाना चाहिए। जो टाइपिंग स्पीड बढ़ाने में मदद करेगें। यहां पर टाइपिंग स्पीड बढ़ाने के तरीके पूरी डिटेल से बताए गए है।

टाइपिंग सीखने के आसान तरीका (Typing Karne Ka Tarika)

टाइप प्रैक्टिस की शुरुआत, सबसे पहले बीच वाली लाइन A S D F G H J K L ; से करनी चाहिए। अपने बाएँ हाथ की पहली उंगली से (A) दूसरी उंगली से (S) तीसरी उंगली से (D) व चौथी उंगली से (F) (G) टाइप करे। इसी प्रकार, दाएँ हाथ की पहली उंगली से (;) दूसरी उंगली से (L) तीसरी उंगली से (K) व चौथी उंगली से (J) (H) टाइप करे।

उसके बाद, ऊपर वाली लाइन Q W E R T Y U I O P की टाइप प्रैक्टिस करनी चाहिए। अपने बाएं हाथ की पहली उंगली से (Q) दूसरी उंगली से (W) तीसरी उंगली से (E) व चौथी उंगली से (R) (T) टाइप करे। इसी प्रकार, दाएँ हाथ की पहली उंगली से (P) दूसरी उंगली से (O) तीसरी उंगली से (I) व चौथी उंगली से (U) (Y) टाइप करे।

उसके बाद Z X C V B N M , . वाली लाइन की टाइप प्रैक्टिस करनी चाहिए। अपने बाएं हाथ की पहली उंगली से (Z) दूसरी उंगली से (X) तीसरी उंगली से (C) व चौथी उंगली से (V) टाइप करे। इसी प्रकार से अपने दाएं हाथ की पहली उंगली से (.) दूसरी उंगली से (,) तीसरी ऊँगली से (M) व चौथी उंगली से (N) (B) टाइप करे।

बढ़ानी है टाइपिंग स्पीड (increase typing speed) तो अपनाएं ये 10 शॉर्टकट

टाइप की प्रैक्टिस शुरू करने से पहले, कीबोर्ड के बटनों के बारे में पूरी पहचान होनी चाहिए। किस बटन को दबाने से कौन-सा अक्षर टाइप होता है। इसलिए उंगलियों को कीबोर्ड के बटनों पर सही तरीके से रखना चाहिए।

सही बैठने का तरीका

टाइपिंग शुरू करने से पहले सही पोजीशन में बैठना चाहिए। मॉनिटर की ऊँचाई आपके सिर के बराबर होनी चाहिए ना अधिक ऊँचा और ना ही अधिक नीचा होना चाहिए। हाथों की कलाई व कीबोर्ड का सही संतुलन होना चाहिए। आपके कन्धे भी ऊपर उठे नहीं होने चाहिए, यदि कन्धे ऊपर उठे होंगे तो कंधों में दर्द शुरू हो जाएगा।

बटनों की पहचान

कीबोर्ड पर अक्षर अलग-अलग स्थान पर होते है। A से Z तक अक्षरों को कीबोर्ड पर तीन लाइनों में रखा गया है। इसलिए टाइपिंग शुरू करने से पहले कीबोर्ड के अक्षरों की पहचान कर लेनी चाहिए। जब तक कीबोर्ड के अक्षरों के बारे में कौन-सा अक्षर कहां पर है पहचान नहीं होगी, तब तक टाइप की स्पीड नहीं बढेगी।

उंगली रखने का तरीका

अपने बांए हाथ की उंगलियों को कीबोर्ड के बीच वाली लाइन ASDF और दाएं हाथ की उंगलियों को 2 अक्षर (G व H) को छोड़कर JKL; पर होनी चाहिए। टाइप करते समय ऊपर व नीचे के अक्षर टाइप करने के बाद वापिस उंगलियां बीच वाली लाइन (ASDF) पर आनी चाहिए। 

स्पेलिंग याद रखना

सही स्पेलिंग और सही उच्चारण (pronunciation) भी टाइपिंग स्पीड बढाने में सहायक सिद्ध होते है। यदि आपको word spelling आती है तो आप अक्षरों को आसानी से टाइप कर सकते है। खाली समय में स्पेलिंग याद करने की कोशिश करें।

कीबोर्ड का चुनाव

कीबोर्ड से भी computer typing speed पर फर्क पड़ता है। छोटे बटन वाले कीबोर्ड पर उंगलियों की पोजीशन सही नहीं बैठती। इसलिए टाइपिंग सीखते समय कीबोर्ड ऐसा होना चाहिए जिसके बटन उभरे और बड़े होने चाहिए। टाइप प्रैक्टिस होने के बाद, आप अपनी मर्जी का कीबोर्ड चुन सकते है।

ध्यान रखना

कुछ लोग टाइपिंग करते समय कभी अपनी नजरें keyboard के बटनों पर और कभी computer screen पर रखते है। ऐसा करने से टाइपिंग में अधिक समय लगता है। टाइपिंग करते समय उसी मैटर पर ध्यान रखना चाहिए जो टाइप करना है।

मोबाइल टाइपिंग

बहुत से लोग इस भ्रम में रहते है कि उनकी मोबाइल पर टाइप स्पीड फ़ास्ट है। वे कंप्यूटर पर भी fast typing speed में कर सकते है। ऐसा असंभव है क्योंकि मोबाइल पर एक उंगली से टाइप करते है जबकि कीबोर्ड पर सभी उँगलियों व अँगूठों का यूज़ किया जाता है। इसलिए टाइप सीखने के लिए कंप्यूटर का ही प्रयोग करना चाहिए।

लक्ष्य बनाना

जब तक किसी काम के लिए जज्बा, जुनून और लक्ष्य तय नहीं होता। तब तक उस काम के फेल होने के चान्स ज्यादा रहते है। लक्ष्य चाहे छोटा ही क्यों ना हो, लक्ष्य अवश्य बनाना चाहिए। शुरुआत में 20 शब्द प्रति मिनट टाइपिंग करने का लक्ष्य बना सकते है।

ऑनलाइन टाइपिंग टेस्ट

इंटरनेट पर online typing test, online typing master, free typing test, typing tutor, typing club, typing games, online typing master, type practice ऐसी वेबसाइट मिल जाएगी जो online typing test करने की सुविधा प्रदान करती है। उन पर जाकर ऑनलाइन टाइपिंग की प्रैक्टिस कर सकते है।

टाइप प्रैक्टिस 

शुरुआत में प्रतिदिन 2 से 3 घंटे typing practice करें। टाइप प्रैक्टिस जितनी अधिक करोगे उतनी ही टाइपिंग में निखार आएगा। ऐसा करने से आपकी टाइप स्पीड आटोमेटिक बढ़ने लगती है। कुछ महीने में ही आपकी टाइपिंग स्पीड फ़ास्ट हो जाएगी। आप कंप्यूटर पर टाइपिंग वर्क को आसानी से कर पाएंगे।

फास्ट टाइपिंग के लिए प्रयोग करें शॉर्टकट

Special keys on the keyboard

EscEscape Key
F1 – F12Function Keys
TabTab Key
Caps LocksCaps Locks Key
ShiftShift Key
CtrlControl Key
FnFunction Key
WindowWindow Key
AltAlternate Key
SpacebarSpacebar Key
EnterEnter Key
BackspaceBackspace Key
Arrows Up, Down, Left, Right Arrow keys
Insert Insert Key
Prt ScrnPrint Screen Key
HomeHome Key
Scroll LockScroll Lock Key
PgUpPage Up Key
Pause BreakBreak Key
DeleteDel or Delete Key
EndEnd Key
PgDnPage Down Key
Num LockNum Lock Key

Keyboard symbols names

~Tilde
`Grave Accent
!Exclamation mark
@At the rate
#Hash 
Rupee sign
£Pound sign
Euro sign
$Dollar sign
¢Cent sign
Pilcrow sign
%Percent
°Degree
^Caret or Circumflex
&And or Ampersand
*Star or Asterisk
(Open parenthesis
)Close parenthesis
Hyphen, Minus or Dash
_Underscore
+Plus
=Equals
{Open Braces, Curly Brackets or Squiggly Brackets
}Close Braces, Curly Brackets or Squiggly Brackets
[Open Square Brackets
]Close Square Brackets
|Pipe or Vertical bar
\Backslash
/Forward Slash
:Colon
;Semicolon
Double Quote or Quotation marks
Apostrophe or Single Quote
<Less Than
>Greater Than
,Comma
.Dot or Full Stop
?Question Mark

इन बेस्ट Keyboards से मिलेगी फास्ट टाइपिंग (Fast Typing)

टाइपिंग स्पीड बढ़ाने (increase typing speed) के लिए कीबोर्ड भी अपना रोल अदा करता है। यदि कीबोर्ड सही बटन वाला है तो टाइपिंग स्पीड 10% ऑटोमैटिक बढ़ जाएगी। Keyboard का साइज छोटा व बड़ा हो सकता है। जब भी आप कीबोर्ड खरीदते है तो इस बात का ध्यान रखें कि कीबोर्ड के बटन जितने बड़े होंगें उतनी ही टाइपिंग स्पीड फ़ास्ट होगी।

नीचे दिए गए कीबोर्ड स्पेशल टाइपिंग स्पीड के लिए बनाए गए है। अद्भुत कीपैड स्टाइल और मजेदार आवाज के साथ टाइपिंग करने में मजा आता है। इसलिए, आपको इन कीबोर्ड का उपयोग करना चाहिए ताकि फ़ास्ट स्पीड के साथ मजेदार टाइपिंग का अनन्द ले सके।

TVS Electronics Gold Keyboard

Zebronics Mechanical Keyboard

DSI 90-Key Multimedia Keyboard

Logitech MK215 Wireless Keyboard

टाइपिंग टेस्ट कैसे होता है?

जब सरकारी व प्राइवेट नौकरी निकलती है कंप्यूटर नॉलेज को essential qualification के लिए जरूरी माना जाता है। लिखित परीक्षा पास करने के बाद, टाइपिंग टेस्ट (computer typing test) देना अनिवार्य है।

जब तक टाइप टेस्ट पास नहीं होगा तब तक नौकरी के लिए योग्य नहीं माना जाता। बहुत से job seeker लिखित परीक्षा की तैयारी के लिए महीनों पहले कोचिंग लेना शुरू कर देते हैं। 

लेकिन टाइप सीखने के लिए यह सोचते है कि जब टाइप टेस्ट होगा तब टाइपिंग सीख लेगें। नौकरी के लिए जितना जरुरी लिखित परीक्षा पास करना है उतना ही जरुरी टाइप टेस्ट पास करना है। यदि आप भी नौकरी ढूंढ रहे है तो computer typing की प्रैक्टिस आज ही शुरू कर देनी चाहिए। 

नौकरी के लिए computer typing test का समय 5 मिनट से 10 मिनट तक हो सकता है। हिन्दी या इंग्लिश, जिस भी भाषा में टाइपिंग टेस्ट है उसी भाषा में A4 पेपर पर पैराग्राफ वाइज प्रिंट दिया जाता है,जो प्रिंट में टाइप होता है वैसा ही निर्धारित समय में टाइप करना होता है। जितना भी टाइप किया जाता है उसके हिसाब से प्रति मिनट स्पीड निकली जाती है।

आज हम 21वीं सदी में हैं और कंप्यूटर के बिना कोई कार्य संभव नहीं है और आज भी आप Typing Speed Kaise Badhaye के बारे में सोच रहे हैं। सोचने से कुछ होने वाला नहीं है अभी से टाइपिंग की शुरुआत करें क्योंकि शुरुआत ही सफलता की पहली सीढ़ी होती है।

इंग्लिश टाइपिंग स्पीड कितनी होनी चाहिए?

Accuracy के साथ 40 से 50 शब्द प्रति मिनट की टाइपिंग स्पीड को अच्छा माना जाता है।

एसएससी सीजीएल टाइपिंग स्पीड कितनी होनी चाहिए?

SSC CGL में इंग्लिश टाइपिंग टेस्ट के लिए 35 wpm और हिन्दी टाइपिंग टेस्ट के लिए 30 wpm होनी चाहिए।

हिन्दी टाइपिंग कैसे करें? Hindi typing kaise kare?

सरकारी नौकरियों के लिए हिंदी टाइपिंग टेस्ट (hindi typing test) में मंगल या कृति देव फ़ॉन्ट में होता है। इसमें फॉण्ट साइज 14 रखा गया है ताकि परीक्षार्थी और परीक्षक दोनों ही आसानी से पढ़ सकें।

कीबोर्ड मास्टर (typing master) कैसे बने?

कीबोर्ड मास्टर (typing master) बनने के लिए टाइपिंग स्पीड तेज और 99% एक्यूरेसी होनी चाहिए। इसके लिए computer shortcut keys का अधिक से अधिक करना चाहिए तभी टाइपिंग स्पीड में तीव्रता आएगी।