सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) फॉर्म, नियम, पात्रता, ब्याज दर | Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

Sukanya samriddhi yojana in hindi – एक छोटी बचत योजना है। सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में खाता खोलने से पहले सुकन्या समृद्धि ब्याज दर, SSY आयु सीमा, SSY डाक्यूमेंट्स, SSY कैलकुलेटर, SSY ऑनलाइन मैच्योरिटी के बारे में पूरी जानकारी पढ़ें।

Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi

योजना का नामसुकन्या समृद्धि योजना (SSY) 
शुरुआत22 जनवरी 2015
योजना का प्रकारलघु बचत योजना
ब्याज दर 7.6% प्रति वर्ष
न्यूनतम जमा राशी250 रुपये प्रतिवर्ष
अधिकतम जमा1.50 लाख रुपये प्रतिवर्ष
खाता खोलने की समय सीमाजन्म से 10 वर्ष की आयु तक
मैच्योरिटी15 वर्ष
कितने खाते खोल सकते है?2 (दो बालकों के नाम पर)

सुकन्या समृद्धि योजना का स्कीम क्या है?


सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत वर्ष 2015 में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने माता-पिता के लिए अपनी बेटियों की शिक्षा और शादी के खर्चों को पूरा करने के उद्देश्य से शुरू की गई थी। माता-पिता सुकन्या समृद्धि योजना में खाता बालिका के जन्म से लेकर 10 वर्ष कर आयु तक खोल सकते है।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) सरकार द्वारा चलाई गई बालिकाओं के नाम एक बचत योजना है। इस योजना के तहत माता-पिता अपनी 10 वर्ष से कम आयु की बालिका के नाम खाता खोल सकते है। सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) “बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ” कार्यक्रम का एक हिस्सा है।



सुकन्या समृद्धि योजना के नाम से किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवा सकते हैं। माता-पिता अपनी बालिका की 21 साल की उम्र तक या 18 साल की उम्र के बाद शादी होने तक (SSY) सुकन्या समृद्धि खाता चलता रहेगा।

सुकन्या समृद्धि योजना के नियम और शर्तें क्या है?

  • सुकन्या समृद्धि योजना में खाता खुलवाने के लिए अधिकतम आयु सीमा 10 वर्ष है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना में एक वर्ष में कम से कम 250 रुपये और अधिकतम 150000 रुपये की राशि जमा की जा सकती है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना में 15 वर्ष तक प्रीमियम जमा करवाना पड़ता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना में लड़की की आयु 18 वर्ष पूरे होने पर शिक्षा के लिए 50 प्रतिशत राशि निकाल सकते है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना में दत्तक पुत्री (जो गोद लिया हो) के लिए भी खाता खोला जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना खाते को एक जगह से दूसरी जगह ट्रांसफर किया जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना की मैच्योरिटी 21 वर्ष दी गई है।

यह भी पढ़ें: 6 तरीकों से एसबीआई खाते में बैलेंस चेक करें?

सुकन्या खाता खोलने से क्या लाभ है?

सुकन्या समृद्धि योजना में अपनी लाडली के लिए खाता खोलने से 18 वर्ष की आयु होने पर पढाई लिखाई के खर्च के लिए 50 प्रतिशत पैसा आंशिक निकासी के रुप में निकाला जा सकता है। मैच्योरिटी होने के बाद मिलने वाले पैसे से शादी खर्च आसानी से पूरा हो जाता है।



सुकन्या समृद्धि योजना से आंशिक निकासी में मिलने वाला सारा पैसा टैक्स फ्री होता है। यहां तक की सुकन्या समृद्धि योजना मैच्योरिटी पर मिलने वाले परिपक्वता और ब्याज राशि पर भी कोई टैक्स नहीं देना पड़ता है। 

सुकन्या समृद्धि योजना से आईटी अधिनियम – 1961 के 80 C के तहत अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक हर साल इनकम टैक्स में छूट दी जाती है। इस लघु बचत योजना से बचत और टैक्स सेविंग करना आसान है।

सुकन्या खाता खोलने के लिए क्या क्या कागज चाहिए?


सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के लिए अभिभावक को अपने नजदीकी पोस्ट ऑफिस या भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा अधिकृत बैंकों में जाना होगा। सुकन्या समृद्धि योजना में अधिकतम 2 खाते खोले जा सकते है।

अगर किसी अभिभावक की दो बेटियां है तो दोनों का अलग-अलग खाता खुलेगा। अगर दूसरी डिलीवरी में जुड़वां लड़कियां पैदा होती है तो सुकन्या समृद्धि योजना में तीसरा खाता खोला जा सकता है।



अभिभावक अपने साथ बालिका का जन्म प्रमाण पत्र के अलावा अपना आधार कार्ड, पहचान पत्र, पैन कार्ड, पासपोर्ट, चुनाव पहचान आईडी और address प्रूफ के लिए बिजली या टेलेफोन बिल, राशन कार्ड, बैंक पास, गैस कॉपी, ड्राइविंग लाइसेंस आदि ले जाने होगें।

यह भी पढ़ें: LIC धन रेखा पाॅलिसी जानें योजना से जुड़ी बड़ी बातें

सुकन्या योजना कितने साल तक होती है?


सुकन्या समृद्धि योजना की अवधि बालिका की उम्र 21 वर्ष के होने या 18 वर्ष की आयु के बाद जब बालिका के माता-पिता उसकी शादी कर देते है। सुकन्या समृद्धि में खाता खोलने की तारीख से लेकर 15 वर्ष के भीतर ही निवेश किया जाना चाहिए।

सुकन्या समृद्धि योजना का पूरा लाभ लेने के लिए कम से कम 15 वर्ष तक निवेश करना अच्छा माना जाता है। इस योजना में सुकन्या समृद्धि account में मैच्योरिटी की date तक ब्याज मिलता है। चाहे बाद में इस खाता में कोई पैसा deposit ना किया गया हो।

सुकन्या खाता कौन सी बैंक में खुलवाना चाहिए?

  • पोस्ट ऑफिस
  • भारतीय स्टेट बैंक
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • बैंक ऑफ इंडिया
  • ऐक्सिस बैंक
  • आंध्रा बैंक
  • यूको बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • इलाहाबाद बैंक
  • पंजाब एंड सिंध बैंक
  • ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स
  • स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  • यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया
  • आईडीबीआई बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • केनरा बैंक
  • देना बैंक
  • विजय बैंक

Sukanya samriddhi yojana interest rate

Year WiseRate of interest
03.12.2014 TO 31.03.20159.1%
01.04.2015 TO 31.03.20169.2%
01.04.2016 TO 30.09.20168.6%
01.10.2016 TO 31.03.20178.5%
01.04.2017 TO 30.06.20178.4%
01.07.2017 TO 31.12.20178.3%
01.01.2018 TO 30.09.20188.1%
01.10.2018 TO 30.06.20198.5%
01.07.2019 TO 31.03.20208.4%
01.04.2020 TO 31.03.20227.6%
source

संबंधित सवाल (FAQ)

प्रश्न: सुकन्या समृद्धि योजना में 1 साल में कितना पैसा जमा कर सकते हैं?



उत्तर: सुकन्या समृद्धि नियम के अनुसार, इस खाते में एक वित्तीय वर्ष में 1.50 लाख रुपये से अधिक जमा नहीं करवा सकते। यह नियम सुकन्या समृद्धि खाता खोलने से लेकर 15 वर्ष के अंत तक लागू रहेगा। अगर 1.50 लाख रुपये से अधिक जमा कर दिया जाता है तो अतिरिक्त राशि पर ब्याज नहीं मिलेगा। 

प्रश्न: सुकन्या समृद्धि योजना में पैसा कब निकाल सकते हैं?

उत्तर: अभिभावक सुकन्या समृद्धि योजना SSY खाते को 21 तक चला सकते है। लेकिन अपनी बालिका की शिक्षा के खर्च को पूरा करने के लिए 18 की आयु के बाद 50 प्रतिशत पैसे की निकासी कर सकते है।


Disclaimer: इस पोस्ट में प्रदान की गई जानकारी सटीक बनाने के लिए सभी प्रयास किए गए हैं। हालांकि, इस डेटा की शुद्धता के संबंध में कोई गारंटी नहीं दी जाती है। कोई भी निवेश करने से पहले कृपया योजना से जुड़े दस्तावेज की जांच करें।

Share This: