घर बैठे पता करें आधार कार्ड से कितने हैं रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर | Aadhar card mobile number

मोबाइल सिम लेने के लिए आजकल आधार कार्ड जरूरी है। यदि आपका aadhar card mobile number से लिंक नहीं है तो आपको सबसे पहले मोबाइल नंबर को आधार कार्ड से लिंक करना होगा।

आधार कार्ड जरूरी इसलिए है ताकि mobile number लेते समय यह सुनिश्चित किया जा सके कि आप फर्जी मोबाइल नंबर नहीं खरीद रहे हैं। इसलिए, मोबाइल सिम प्राप्त करने के लिए aadhar card की आवश्यकता होती है।

यदि किसी ने आपके आधार कार्ड से fake mobile number प्राप्त कर लिया है तो आपको भारी नुकसान हो सकता है। आपके नाम से sim number का गलत प्रयोग करने पर आपको दोषी ठहराया जा सकता है।

यहां तक की इसके लिए आप को जेल भी हो सकती है। ऐसी स्थिति ना आए, अभी से aadhaar card mobile number check कर लेना चाहिए कि आधार कार्ड से मोबाइल नंबर लिंक है या नहीं।

आधार कार्ड से होने वाली धोखाधड़ी से बचने के लिए दूरसंचार कंपनी ट्राई (DoT) ने एक नई वेबसाइट टेलीकॉम एनालिटिक्स फॉर मैनेजमेंट एंड कंज्यूमर प्रोटेक्शन (TAFCOP) की शुरुआत की गई है।

Trai ने मोबाइल यूजर्स के लिए यह सुविधा दी है कि aadhaar card से लोगों की जानकारी के बिना भी मोबाइल सिम खरीद कर उसका उपयोग किया जा रहा है।

यदि कोई fake mobile number आधार कार्ड से लिंक है तो fake mobile number को ब्लॉक किया जा सकता है। इसके अलावा, मोबाइल नंबर कंपनी से शिकायत भी कर सकते हैं।

क्या है DoT की गाइडलाइन

DoT की वर्तमान गाइडलाइन के अनुसार, एक व्यक्ति के पास 9 से अधिक मोबाइल कनेक्शन नहीं हो सकते। कहने का मतलब यह है कि एक व्यक्ति अपने नाम से केवल 9 ही mobile number ले सकता है।

धोखाधड़ी को कम करने के लिए, टेलीकॉम एनालिटिक्स फॉर मैनेजमेंट एंड कंज्यूमर प्रोटेक्शन (TAFCOP) पोर्टल की शुरूआत की गई है। मोबाइल यूजर इस पोर्टल के माध्यम से यह पता कर सकते हैं कि उनके नाम से कितने मोबाइल नंबर चल रहे हैं।

Fake sim card की पहचान कैसे करें?

इस वेबसाइट से यह पता लगाया जा सकता है कि aadhar card से कितने मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड है। इसकी जांच करने के लिए कोई भी इस वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकता है कि आधार कार्ड से कौन-कौन से mobile number link है।

  • आपको सबसे पहले टेलीकॉम एनालिटिक्स फॉर मैनेजमेंट एंड कंज्यूमर प्रोटेक्शन (TAFCOP) पोर्टल पर जाना होगा।  होम स्क्रीन पर आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा। 
  • उसके बाद रिक्वेस्ट ओटीपी क्लिक करें। 
  • ओटीपी नंबर आपके मोबाइल पर भेजा जाएगा जिससे वेरिफिकेशन करना होगा। 
  • अब आपको आधार कार्ड से लिंक सभी मोबाइल नंबर की लिस्ट दिखाई देगी।

Sim बंद होने के बाद क्या करना चाहिए?

मोबाइल सिम कार्ड गुम होने पर कुछ लोग इस बात को हल्के में लेते हैं। वे सिम कार्ड गुम होने की रिपोर्ट करने की वजह नया sim card खरीद लेते हैं बल्कि ऐसा कभी नहीं करना चाहिए।

अगर आपका पुराना mobile number aadhar card से लिंक है और कोई उस मोबाइल नंबर का यूज करके गलत काम करता है तो पुलिस आपसे पूछताछ और जांच के दायरे में ले सकती है।

इसलिए, आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर को चेक करना चाहिए कि आपके आधार से कितने मोबाइल नंबर लिंक है। जिस सिम कार्ड का यूज नहीं कर रहे हैं उसे आधार कार्ड से डिस्कंटीन्यू कर देना चाहिए।

Sim card खरीदते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

आधार कार्ड पर सिम खरीदने से आपको कुछ बातों पर गौर करने की जरूरत है। सबसे जरूरी यह है कि अपने आधार पर कभी भी अनजान व्यक्ति को सिम खरीदने की अनुमति ना दें। वरना, आपको भविष्य में नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

कोई भी नया mobile number खरीदने से पहले पुराने मोबाइल नंबर को aadhaar card से हटाना चाहिए। TAFCOP वेबसाइट का पूरा नाम से आसानी से पता लगाया जा सकता है कि आपके आधार कार्ड पर अब तक कितने sim card जारी किए जा चुके हैं।

आधार से मोबाइल नंबर कैसे लिंक करें

आधार कार्ड पर लिए गए मोबाइल सिम की संख्या जानने के लिए, आपको सबसे पहले अपने मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करना है। इसके लिए, UIDAI की वेबसाइट पर जाकर get aadhaar ऑप्शन का चुनाव कर download aadhar करना है।

स्क्रीन पर दिखने वाले view more पर क्लिक करने से aadhaar online services पेज खुलेगा। इसके बाद, aadhaar authentication history पर जाकर कैप्चा भरना है। यहां आपसे मोबाइल ओटीपी वेरिफिकेशन करने को कहा जाएगा। इसे वेरीफाई करते ही आपके स्क्रीन पर आधार से जुड़ी सभी जानकारी आ जाएगी।